गणित की आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका

Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Ganit

22 सप्ताह की आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका 2022-23 (Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Bhasha Ganit) आधारित शिक्षण योजना द्वारा कक्षा 1 से 3 तक की कक्षाओं में 1 अगस्त 2022 से शिक्षण किया जा रहा है | कक्षा 1. कक्षा 2 एवं कक्षा 3 में गणित शिक्षण के लिए तीन कालांश निर्धारित हैं | निपुण भारत संदर्शिका में प्रत्येक कालांश के लिए अलग-अलग कार्य भी निर्धारित किए गए हैं |

आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका गणित (Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Ganit)

कक्षा 1 से 3 तक की कक्षाओं में भाषा के पश्चात 3 कालांश गणित शिक्षण के लिए रखे गए हैं | प्रथम कालांश में शिक्षण योजना पर कार्य, द्वितीय कालांश में अभ्यास पत्रक पर कार्य तथा तृतीय कालांश में अभ्यास गतिविधि पर कार्य किया जाएगा |

गणित की साप्ताहिक एवं दैनिक योजना

कक्षा 1,2 एवं 3 गणित की आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका की रूपरेखा

Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Ganit

सप्ताह के प्रथम चार दिन

22 सप्ताह आधारित वार्षिक योजना के अनुसार सप्ताह के प्रथम 4 दिन अनुदेशात्मक कार्य किया जाएगा | पहले 3 दिनों के प्रथम कालांश में 3 शिक्षण योजनाओं पर कार्य, द्वितीय कालांश में 3 अभ्यास पत्रकों पर कार्य एवं तृतीय कालांश में अभ्यास गतिविधि पर कार्य किया जाएगा (शिक्षण योजना एवं अभ्यास गतिविधि संदर्शिका में दी गई है) | चौथे दिन 3 कालांश रिक्त रखा गया है जिसे आप कक्षा की आवश्यकता के अनुसार उपयोग करेंगे |

कक्षा 1 से 3 के लिए गणित का प्रत्येक कालांश 40 मिनट का रहेगा |

Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Ganit

नीचे दी गई तालिका में प्रत्येक कालांश में क्या-क्या गतिविधियाँ कराई जानी है, इसका उल्लेख किया गया है | अतः कार्य प्रारम्भ करने से पूर्व इसको ध्यान से पढना अति आवश्यक है | तत्पश्चात ट्रेकर में चिन्हित करेंगे |

Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Ganit

सप्ताह का पांचवा दिन

अनुदेशात्मक कार्य के पश्चात पांचवे दिन प्रथम एवं द्वितीय कालांश में समेकन गतिविधि पर कार्य करेंगे | तीसरे कालांश में साप्ताहिक आकलन पत्रक (मैंने सीख लिया) द्वारा प्रत्येक बच्चे का आकलन करेंगे | इसके पश्चात प्रत्येक बच्चे के प्रगति की जानकारी ट्रेकर में भरेंगे |

Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Ganit

समेकन गतिविधि सप्ताह की तीनों शिक्षण योजनाओं पर आधारित होगी | प्रश्न और संवाद के माध्यम से अवधारणाओं का दोहराव किया जाएगा | बच्चों के उत्तर के अनुसार साप्ताहिक अभ्यास या रेमिडियल गतिविधि के लिए चिन्हित करें |

Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Ganit

सप्ताह का छठा दिन

साप्ताहिक आकलन से प्राप्त परिणामों के आधार पर कालांश 1 में समूह-1 के साथ रेमिडियल गतिविधि एवं समूह-2 के साथ साप्ताहिक अभ्यास पर कार्य करेंगे | दूसरा कालांश रिक्त रखा गया है, इसका उपयोग आवश्यकता के अनुसार रेमिडियल गतिविधि के लिए किया जा सकता है |

Adharshila Kriyanvayan Sandarshika Ganit

नीचे दी गई तालिका के अनुसार रेमिडियल गतिविधि, साप्ताहिक अभ्यास एवं साप्ताहिक पुनरावृत्ति पत्रक पर कार्य करें | हर सप्ताह के अंत में प्रत्येक बच्चे की प्रगति समझने के लिए गृह कार्य हेतु एक कार्यपत्रक दिया गया है | जिसे घर से पूर्ण करके लाने के लिए कहें |

सावधिक आकलन (Adharshila Kriyanvayan Sandarshika ganit)

गणित विषय के लिए सावधिक आकलन 11 वें और 22 वें सप्ताह किया जाएगा | इसके लिए प्रथम कालांश में 10 सावधिक आकलन प्रपत्र (कार्यपुस्तिका में) पर कार्य करेंगे और दूसरे कालांश में पिछले 10 सप्ताह की रेमिडियल गतिविधियों पर कार्य करेंगे |

इसी प्रकार 22 वें सप्ताह भी 10 सावधिक आकलन पत्रक एवं पिछले 10 सप्ताह की रेमिडियल गतिविधि पर कार्य किया जाएगा |

कालांश 3 रिक्त रखा गया है, जिसका उपयोग आवश्यकता अनुसार रेमिडियल गतिविधि के लिए किया जा सकता है | तत्पश्चात ट्रेकर को चिन्हित करें |

आइकन एवं रंगों के संकेतक

गणित की आधारशिला संदर्शिका में अलग-अलग आइकन और रंगों का संकेत के रूप में उपयोग किया गया है | जिसे आप नीचे दिए गए चित्र से समझ सकते हैं |

शिक्षण योजना को समझने से पहले निम्न प्रतीकों को समझना अति आवश्यक है | क्योंकि सभी शिक्षण योजनाओं में इन्हीं प्रतीकों का इस्तेमाल किया गया है |

बच्चों के अभ्यास कार्य एवं आकलन के लिए कार्यपुस्तिका उपलब्ध कराई जा रही है | इसमें बहुत से प्रतीकों का प्रयोग किया गया है जो निम्न हैं –

स्रोत: आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका भाषा 2022-23 एवं कार्यपुस्तिका (बेसिक शिक्षा परिषद उ०प्र०)

If you have any suggestions regarding nipun bharat sandarshika Maths, please send to us as your suggestions are very important to us.

CONTACT US :
IMPORTANT LINKS :
error: Content is protected !!