चुम्बकत्व : कक्षा 8 विज्ञान पाठ 14

up board solutions class 8

Solution for SCERT UP Board book आओ समझें विज्ञान ( विज्ञान भारती III ) कक्षा 8 पाठ 14 चुंबकत्व solution pdf. If you have query regarding Class 8 Aao samjhe vigyan Vigyan bharti III chapter 14 Chumbkatva, please drop a comment below.

चुंबकत्व

Exercise ( अभ्यास )

1- निम्नलिखित प्रश्नों में से सही विकल्प छोड़कर अभ्यास पुस्तिका में लिखिए –

क. चुंबक द्वारा आकर्षित होता है –
अ. लकड़ी का बुरादा
ब. कांच का बुरादा
स. लोहे का बुरादा (✔)
द. तांबे का बुरादा

ख. स्वतंत्रतापूर्वक लटकाने पर चुंबक रुकता है –
अ. उत्तर – पूरब दिशा में
ब. उत्तर – दक्षिण दिशा में (✔)
स. उत्तर – दिशा के लंबवत
द. कहीं भी रुक सकता है

ग. चुंबकीय पदार्थ है –
अ. पीतल
ब. तांबा
स. लोहा ( ✔)
द. रबड़

घ. चुंबक का चुंबकत्व सर्वाधिक होता है –
अ. चुंबक के बीच में
ब. चुंबक के सिरों पर (✔)
स. सभी जगह समान
द. चुंबक से दूर

ड. चुंबकीय प्रभाव आर – पार नहीं निकल पाता है –
अ. लोहे की चादर से (✔)
ब. कांच की पट्टी से
स. लकड़ी के तख्ते से
द. कागज से

2- दिए गए विकल्पों की सहायता से रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

( आकर्षित, उत्तरी , दक्षिणी, प्रकृति , कृत्रिम , ध्रुवों, चुंबकीय )

क. चुंबक जिन पदार्थों को अपनी और आकर्षित करते हैं उन्हें — चुंबकीय — पदार्थ कहते हैं l
ख. चुंबक में — उत्तरी — एवं — दक्षिणी — ध्रुव होते हैं l
ग. चुंबक के — ध्रुवों — को एक से अलग नहीं किया जा सकता है l
घ. चुंबक लोहे के चूर्ण को अपनी ओर — आकर्षित — करता है l
ड. प्राकृतिक में पाए जाने वाले चुंबक को — प्राकृतिक— चुंबक कहते हैं l

3- निम्नलिखित कथनों में से सही कथन पर सही (✔) और गलत कथन पर गलत (❌) का चिन्ह लगाइए –

क. चुंबक कांच के टुकड़ों को आकर्षित करता है l (❌)
ख. स्टेनलेस स्टील के बर्तनों की जांच चुंबक से नहीं की जा सकती है l (❌)
ग. चुंबक के समान ध्रुवो में आकर्षण होता है l (❌)
घ. चुंबक के सिर पर आकर्षण बल सबसे अधिक होता हैl (✔)

निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए –

प्रश्न 4. चुंबक के 4 गुण लिखिए –

उत्तर – 1. लोहे के कण मिले मिश्रण से लोहे के कणों को चुंबकीय की सहायता से अलग किया जा सकता है l

  1. चुंबक लोहा तथा लोहे से बनी वस्तुओं को अपनी और आकर्षित करता है l
  2. चुंबक की सहायता से मोटर साइकिल, तथा मोटर कार में प्रयुक्त होने वाले डायनेमो का निर्माण किया जाता है l
  3. चुंबक का महत्वपूर्ण उपयोग कंपास सुई बनाने में किया जाता है जिसकी सहायता से दिशाएं ज्ञात की जाती हैं l

प्रश्न 5. विद्युत चुंबक से क्या अभिप्राय है? इसका उपयोग लिखिए l

उत्तर – विद्युत चुंबक – यदि लोहे के बेलन या नरम लोहे की पत्ती पर धातु के तार को कुंडली नुमा लपेटकर उसमें विद्युत धारा प्रवाहित की जाए तो इसे विद्युत चुंबक कहते हैंl इस इस प्रकार विद्युत धारा द्वारा बनाए गए चुंबक को विद्युत चुंबक कहते हैं यह प्राय : घोड़े के नाल जैसे ‘U’ आकार के होते हैं l

विद्युत चुंबक के उपयोग –

  1. विद्युत चुंबक का उपयोग लोहे के अत्यधिक भारी सामान को उठाने में लोहे की कील तथा उसके टुकड़ों आदि को उठाने में किया जाता हैl
  2. इसका उपयोग विद्युत चलित उपकरणों जैसे विद्युत घंटी टेलीफोन पंखा मिक्सर ग्राइंडर कपड़ा धोने की मशीन आज में किया जाता है l
  3. उद्योगों में अचुंबकीय पदार्थों से चुंबकीय पदार्थों जैसे – लोहा, निकिल, कोबाल्ट आदि को अलग करने में प्रयोग किया जाता है l
  4. शरीर के घाव एवं आंख में पड़े लोहे के छोटे-छोटे कणों को निकालने में डॉक्टर इसका उपयोग करते हैं

प्रश्न – 6. चुंबकीय क्षेत्र किसे कहते हैं ?

उत्तर – चुंबक के चारों ओर का वह क्षेत्र जिसमें चुंबकीय प्रभाव का अनुभव होता है चुंबकीय क्षेत्र कहलाता है l

प्रश्न -7. चुंबकीय बल रेखा को चित्र सहित परिभाषित कीजिए –

उत्तर – चित्र छात्र स्वयं बनाएं l

चुंबकीय बल रेखाएं किसी चुंबकीय क्षेत्र में वे काल्पनिक वक्र हैं l जिनकी किसी बिंदु पर खींची गई स्पर्श रेखा उस बिंदु पर चुंबकीय क्षेत्र की दिशा को निरूपित करता है चुंबकीय बल रेखा कहलाता है l

प्रश्न – 8. स्थाई तथा अस्थाई चुंबक एक दूसरे से किस प्रकार भिन्न है ?

उत्तर – स्थाई चुंबक – जिस चुंबक में चुंबकत्व का गुण अस्थाई होता है उसे स्थाई चुंबक कहते हैं l यह चुंबक लोहा, निकली, कोबाल्ट आदि के बनाए जाते हैं इसका चुंबकत्व शीघ्र नष्ट नहीं होता है बताइए लंबे समय तक प्रयोग में लाए जा सकते हैं l
अस्थाई चुंबक – जिस चुंबक में चुंबकत्व का गुण अस्थाई नहीं रहता है l उस चुंबक को अस्थाई चुंबक कहते हैं l अस्थाई चुंबक को गर्म ( मुलायम ) लोहे का बनाया जाता है अधिकांश अस्थाई चुंबक को गर्म लोहे के चारों ओर लपेटे गए चालकता की कुंडली में विद्युत धारा प्रवाहित कर बनाया जाता है l कुंडली में जब तक विद्युत धारा प्रवाहित होती रहती है नरम लोहे में चुंबकत्व रहता है तथा धाराप्रवाह बंद करते ही इसका चुंबकत्व समाप्त हो जाता है इन्हें विद्युत चुंबक कहते हैं l

प्रश्न – 9. पृथ्वी एक चुंबक की भात कार्य करती है? इसके लिए तथ्य कीजिए |

उत्तर – ज़ब स्वतंत्रतापूर्वक लटके हुए किसी बड़े चुंबक को पृथ्वी तल पर उत्तरी गोलार्द्ध से दक्षिणी गोलार्द्ध की ओर ले जाते हैं l तब दंड चुंबकीय उसी भांति व्यवहार करता है l जैसे – कि बड़े चुंबक के ऊपर छोटा चुंबक व्यवहार करता है इससे या निष्कर्ष निकलता है कि पृथ्वी चुंबक की भांति कार्य करता है l

प्रश्न – 10. चुंबक का उचित रखरखाव कैसे करते हैं ?

उत्तर – चुंबक का रखरखाव – चुंबक का चुंबकत्व बनाए रखने के लिए अधोलिखित सावधानियां बरतनी चाहिए l

  1. दो चुंबक को आसपास में ना रगड़े विपरीत दिशा में घर्षण ना करें l
  2. चुंबक को ना पीटे ना ठोके और ना ही ऊचाई से जमीन पर गिराए l
  3. चुंबक को गर्म नहीं करना चाहिए l
  4. पास – पास रखे चुंबकों समान ध्रुवो को साथ – साथ न रखें l
  5. स्थाई चुंबक के चुंबकत्व को बनाए रखने के लिए नरम लोहे के रक्षक का उपयोग किया जाता है l

प्रश्न – 11. प्रयोग द्वारा दिखाइए किस चुंबक के समान ध्रुवों में आकर्षण होता है l

उत्तर – एक चुंबकीय सुई तथा एक छड़ चुंबक लीजिए | चुंबकीय सुई के उत्तरी ध्रुव (N) के पास छड़ चुंबक के दोनों ध्रुवों को बारी-बारी से लाइए देखिए क्या होता है आप देखेंगे कि जब सुई के पास छड़ चुंबक का उत्तरी ध्रुव लाते हैं , तो सुई का उत्तरी ध्रुव प्रकृति प्रतिकर्षण हो जाता है l और जब चुंबक का दक्षिण ध्रुव (S) सुई के उत्तरी ध्रुव के पास लाया जाता है तो चुंबकीय सुई का उत्तरी ध्रुव आकर्षित हो जाता है इससे स्पष्ट है कि चुंबक के समान ध्रुवो में प्रतिकर्षण तथा आसमानों में आकर्षण होता है l

उपरोक्त क्रियाकलापों के आधार पर चुंबक में निम्नलिखित गुण पाए जाते हैं l

  1. स्वतंत्रता पूर्वक लटकाने पर चुंबक सदैव उत्तर दक्षिण दिशा में ही स्थित होता है l
  2. चुंबक चुंबकीय पदार्थों को अपनी और आकर्षित करता है l
  3. चुंबक के सिरों पर चुंबकत्व सबसे अधिक तथा मध्य में कम होता है l
  4. चुंबक के आसमान ध्रुवों में आकर्षण तथा समान ध्रुवो में प्रतिकर्षण होता है l

प्रश्न – 12. विद्युत धारा के चुंबकीय प्रभाव को दर्शाने के लिए एक प्रयोग का वर्णन कीजिए l

उत्तर – विद्युत धारा के चुंबकीय प्रभाव –
क्रियाकलाप – एक चालक तार, एक कुंजी तथा एक सुख सेल ने इनको मेज रखकर तार में बिना विद्युत धारा प्रवाहित किए चुंबकीय सुई को तार के पास लायें आप देखेंगे कि – चुंबकीय सुई उत्तर- दक्षिण दिशा में रुक गई है l परिपथ को संयोजित कर तार में विद्युत धारा प्रवाहित करके चुंबकीय सुई के पीछे को देखें आपने देखा कि चुंबकीय सुई विक्षेपित हो जाती है इससे यह निष्कर्ष निकलता है कि तार में विद्युत धारा प्रवाहित करने पर उसके चारों और चुंबकीय क्षेत्र उत्पन्न हो जाता है l

MasterJEE Online Solutions for Class-8 Science Chapter 14 चुम्बकत्व. If you have any suggestions, please send to us as your suggestions are very important to us.

CONTACT US :
IMPORTANT LINKS :
error: Content is protected !!