मानव निर्मित वस्तुएं : कक्षा 8 विज्ञान भारती पाठ 2

up board solutions class 8

Solution for SCERT UP Board book आओ समझें विज्ञान ( विज्ञान भारती III ) कक्षा 8 पाठ 2 मानव निर्मित वस्तुएं solution pdf. If you have query regarding Class 8 Aao samjhe vigyan Vigyan bharti III chapter 2 Manav Nirmit Vastuye , please drop a comment below.

मानव निर्मित वस्तुएं

Exercise ( अभ्यास )

प्रश्न ( 1 ) : सही विकल्प के सामने सही (✓) का चिन्ह अपनी उत्तर पुस्तिका में लगाइए –

( क )  थर्माकोल का दूसरा नाम है  –

( अ ) टेफ्लान              ( ब ) स्टाइरोन ✓

( स ) नायलान              ( द ) डेक्रान 

( ख )  पौधों का मुख्य पोषक तत्व है  –

( अ ) गंधक                 ( ब ) ऑक्सीजन

( स ) नाइट्रोजन ✓       ( द ) कार्बन

( ग )  फेरिक ऑक्साइड मिलाने से निर्मित कांच होता है  –

( अ ) हरा                  ( ब ) हल्का नीला ✓

( स ) पीला                ( द ) बैंगनी

( घ )  खिड़कियों में प्रयोग किया जाता  है  –

( अ ) कठोर कांच

( ब ) फोटोक्रोमेटिक कांच

( स ) फ्लिंट कांच

( द ) साधारण या मृदु कांच ✓

प्रश्न ( 2 ) : निम्नलिखित कथनों में सही कथन पर सही (✓) और गलत कथन पर गलत (✗) का चिन्ह लगाइए –

( क ) फोटोक्रोमेटिक कांच प्राप्त करने के लिए उसमें कुछ सिल्वर आयोडाइड मिलाया जाता है | (✓)

( ख ) रेयान प्राकृतिक रेशा है | (✗)

( ग ) सीमेंट ,साबुन ,प्लास्टिक आदि मानव निर्मित वस्तुएं हैं | (✓)

( घ ) एंटीबायोटिक दवाओं का उपयोग कीटाणुनाशक के रूप में किया जाता है | (✗)

प्रश्न ( 3 ) : नीचे दिए गए शब्दों की सहायता से रिक्त स्थानों की पूर्ति अपनी अभ्यास पुस्तिका में कीजिए –

( साबुन , प्राकृतिक ,बर्तन संश्लेषित , पराबैगनी )

( क ) मेलामाईन का उपयोग प्लास्टिक के  बर्तन  बनाने में किया जाता है  |

( ख ) सूत , रेशम , ऊन  संश्लेषित  रेशे हैं |

( ग ) धूप  के चश्में सूर्य की पराबैगनी किरणों से आँखों को बचाते हैं |

( घ ) सोडियम हाइड्रोक्साइड और वनस्पति तेल की क्रिया से साबुन प्राप्त किया जाता है |

4. संक्षेप में उत्तर दीजिए –

(क) प्राकृतिक एवं मानव निर्मित वस्तुओं से क्या समझते हैं ?

उत्तर : प्रकृति से हमें अनेक संसाधन प्राप्त होते हैं | प्रकृति द्वारा प्रदत्त वस्तुओं को प्राकृतिक वस्तुएं कहते हैं , जैसे-पेड़-पौधे , जीव-जन्तु ,मिटटी , खनिज ,जल, आदि |

जो वस्तुएं मनुष्य द्वारा निर्मित हैं ,उन्हें मानव निर्मित वस्तुएं कहते हैं | जैसे-मकान , गाड़ी , साइकिल , खिलौना , साबुन , कपड़ा , आदि |

(ख) किन्ही चार प्रकार के कांच का नाम लिखिए |

उत्तर : काँच  निम्नलिखित प्रकार के होते हैं –

  1. साधारण या मृदु काँच 
  2. कठोर काँच 
  3. फ्लिंट या प्रकाशीय काँच 
  4. फोटोक्रोमिक काँच 

(ग) पॉलिथीन , टेफ्लान , एक्रिलिक तथा बेकेलाइट के एक-एक उपयोग लिखिए |

उत्तर : 

  1. पॉलिथीन – न टूटने वाली बोतल के निर्माण में 
  2. टेफ्लान – नान स्टिक बर्तन पर ऊष्मा प्रतिरोधी परत चढ़ाने में 
  3. एक्रिलिक – कार एवं ट्रकों की खिडकियों में 
  4. बेकेलाइट – बिजली के प्लग एवं स्विच बनाने में 

(घ) साबुन और अपमार्जक में क्या अन्तर है ?

उत्तर : रासायनिक रूप में साबुन उच्च वसीय अम्लों के सोडियम तथा पोटैशियम लवण होतें हैं , इसका प्रयोग नहाने के साबुन के रूप में किया जाता है  जबकि अपमार्जक कठोर जल के साथ भी झाग देने वाला रासायनिक पदार्थ होता है इसका प्रयोग कपड़ा धोने में किया जाता है |

(ड) मृत्तिका क्या है ?

उत्तर : गूंथी हुई चिकनी मिट्टी से चाक द्वारा पहले कच्चे बर्तन बनाए जाते हैं ,फिर उन्हें उच्च ताप पर भट्टी में पकाया जाता है | पके हुए इन बर्तनों को ही मृत्तिका कहते हैं |

(च) संश्लेषित रेशे क्या हैं ?

उत्तर : नायलान , पालिस्टर , डेक्रान , रेयान आदि मानव निर्मित रेशे हैं | इस प्रकार के रेशों को संश्लेषित रेशे कहते हैं |

5. स्तम्भ ‘क’ के अधूरे वाक्यों को स्तम्भ ‘ख’ की सहायता से पूरा कीजिए –

उत्तर :  

क. मनुष्य अथवा मशीनों द्वारा तैयार की गयी वस्तुएं – मानव निर्मित वस्तुएं कहलाती हैं |

ख. मकान बनाने में – ईंट , सीमेंट , सरिया , आदि का उपयोग किया जाता है |

ग. सीमेंट के नए प्लास्टर पर  – पानी का छिड़काव आवश्यक होता है |

घ. रेयान रेशों को  – कृत्रिम रेशा भी कहा जाता है |

5. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए –

(क) भूमि में पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए कौन-कौन से उपाय किये जा सकते हैं ?

उत्तर : भूमि में पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए निम्नलिखित उपाय किये जा सकते हैं –

  1. भूमि की जुताई करने के पश्चात कुछ समय के लिए खुला छोड़ दिया जाय |
  2. सही पसल चक्र को अपनाकर |
  3. जैविक खाद का  का प्रयोग करके |
  4. मिट्टी की जाँच कराने के पश्चात आवश्यक सूक्ष्म तत्वों का प्रयोग करके |

(ख) धूप में बाहर निकलने पर हम धूप के चश्मों का प्रयोग क्यों करते हैं ?

उत्तर : धूप के चश्मों का प्रयोग आँखों को सूर्य की गर्मी से बचाने के लिए किया जाता है |

(ग) संश्लेषित रेशों से बने वस्त्र जल्दी क्यों सूख जाते हैं ?

उत्तर : संश्लेषित रेशों से निर्मित कपड़े हल्के होते हैं और इनमें सिकुड़न भी कम होती है | इसीलिए ये वस्त्र जल्दी सूखते हैं |

(घ) जैव निम्नीकरणीय एवं जैव अनिम्नीकरणीय में अन्तर लिखिए |

उत्तर : पदार्थ , जो प्राकृतिक प्रक्रिया अर्थात जीवाणुओं की क्रिया द्वारा अपघटित होता है , जैव निम्नीकरण कहलाता है | जैसे- सूती वस्त्र , सब्जी और फलों के छिलके ,कागज़ आदि | जबकि वह  पदार्थ , जो प्राकृतिक प्रक्रियाओं द्वारा सरलता से विघटित नहीं होता , जैव अनिम्नीकरण कहलाता है | जैसे- प्लास्टिक थैलियाँ ,टिन आदि |

RELATED POSTS :

MasterJEE Online Solutions for Class-8 Science Chapter-2 “Manav nirmit vastuyen” . If you have any suggestions, please send to us as your suggestions are very important to us.

CONTACT US :
IMPORTANT LINKS :
RECENT POSTS :

This section has a detailed solution for all SCERT UTADAR PRADESH textbooks of class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7 and class 8, along with PDFs of all primary and junior textbooks of classes . Free downloads and materials related to various competitive exams are available.

error: Content is protected !!