समुद्र गुप्त : कक्षा 8 हमारे आदर्श पाठ 5

up board solutions class 8

Solution for SCERT UP Board book महान व्यक्तित्व “हमारे आदर्श” कक्षा 8 पाठ 5 समुद्रगुप्त solution pdf. If you have query regarding Class 8 Mahan Vyaktitva “Hamare Aadarsh” chapter 5 Samudra Gupt, please drop a comment below.

समुद्रगुप्त

निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए –

1 : समुद्रगुप्त कौन था ?

उत्तर- समुद्रगुप्त गुप्त वंश के शासक चंदगुप्त प्रथम का पुत्र था जो आगे चलकर मगध का सम्राट बना |

2 : समुद्र गुप्त की विजय यात्रा का मुख्य उद्देश्य क्या था ?

उत्तर- समुद्रगुप्त की विजय यात्रा का मुख्य उद्देश्य भारत की राष्ट्रीय एकता की स्थापना करना था |

3 : समुद्र गुप्त की विजय का संक्षेप में वर्णन कीजिए।

उत्तर- बचपन से ही समुद्र गुप्त की अभिलाषा थी कि समस्त भारत भूमि को एकता के एक सूत्र में बांधकर एक सुदृढ़ राष्ट्र का स्वरूप प्रदान किया जाए | उसने सबसे पहले उत्तर भारत के राजाओं को पराजित किया और उनके राज्यों को अपने साम्राज्य में मिला लिया | धीरे-धीरे सीमान्त एवं अन्य गणराज्यों को भी जीत लिया | दक्षिण भारत के शासकों को परास्त करने के बाद उनके राज्य को अपने साम्राज्य में न मिलाकर उनको राज्य चलाने के लिए वापस कर दिया | इस प्रकार सम्पूर्ण भारत पर समुद्र गुप्त का अधिकार स्थापित हो गया |

4 : अश्वमेध यज्ञ किसे कहते हैं ? इस अवसर पर समुद्र गुप्त को क्या उपाधि दी गयी थी ?

उत्तर- अश्वमेध यज्ञ में एक घोडा छोड़ा जाता है और उसके पीछे सेना चलती है | यदि कोई घोडा पकड़ लेता है तो उस राजा को युद्ध करना पड़ता है अन्यथा घोड़ा विभिन्न राज्यों की सीमाओं से होकर वापस आता है तब यज्ञ पूर्ण माना जाता है और राजा दिग्विजयी समझा जाता है | इस अवसर पर समुद्र गुप्त को “महाराजाधिराज” की उपाधि दी गयी थी |

5 : समुद्र गुप्त की शासन व्यवस्था का संक्षेप में वर्णन कीजिए |

उत्तर- समुद्र गुप्त की शासन व्यवस्था बहुत सुदृढ़ थी उसके 50 वर्षों के शासनकाल में किसी क्षेत्र में कोई अशांति नहीं हुई और न किसी ने साम्राज्य के विरुद्ध विद्रोह करने का साहस किया | उस समय खेती और व्यापार उन्नत दशा में थे | नहरों और मार्गों का जाल-सा बिछा था | भारत भूमि धन-धान्य से परिपूर्ण थी |

6 : समुद्र गुप्त के शासन काल को स्वर्णयुग क्‍यों कहा जाता है ?

उत्तर- समुद्र गुप्त के शासन में प्रजा खुशहाल थी चारों तरफ शांति एवं सम्पन्नता दिखाई देती थी | साहित्यकारों और कवियों को आश्रय दिया जाता था | समुद्र गुप्त ने पाँच सदियों से छिन्न-भिन्न हुई राजनीतिक राष्ट्रीय एकता पुनः स्थापित की | इसलिए समुद्र गुप्त के शासन काल को स्वर्णयुग कहा जाता है |

RELATED POSTS :

Master Jee Online Solutions for Mahan Vyaktitva Class 8 Chapter 5 . If you have any suggestions, please send to us as your suggestions are very important to us.

CONTACT US :
IMPORTANT LINKS :
RECENT POSTS :

This section has a detailed solution for all SCERT UTADAR PRADESH textbooks of class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7 and class 8, along with PDFs of all primary and junior textbooks of classes . Free downloads and materials related to various competitive exams are available.

error: Content is protected !!