आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका पर आधारित 22 सप्ताह की शिक्षण गतिविधियाँ

22 सप्ताह की शिक्षण गतिविधियाँ

शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को 29 जुलाई 2020 को लागू की गई | NEP-2020 में निहित प्रावधानों के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु निपुण भारत मिशन कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया | उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उक्त कार्यक्रम को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया | बच्चों में बुनियादी साक्षरता एवं संख्या ज्ञान क्षमता प्राप्त करने हेतु बालवाटिका से कक्षा 1, 2 एवं 3 के लिए निपुण लक्ष्य निर्धारित किये गए हैं | इन निपुण लक्ष्यों को तय समय सीमा में प्राप्त करने हेतु स्कूल रेडीनेस कार्यक्रम एवं 22 सप्ताह का आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका आधारित कार्यक्रम (22 सप्ताह की शिक्षण गतिविधियाँ) शुरू किया गया है |

कक्षा 1, कक्षा 2 एवं कक्षा 3 के लिए 22 सप्ताह की शिक्षण गतिविधियाँ

कोविड-19 महामारी के कारण पूरा विश्व प्रभावित हुआ है | इस दौरान सबसे ज्यादा नुकसान विद्यार्थियों का हुआ | कक्षा 1 में प्रवेश लेने वाले बच्चे बिना विद्यालय में शिक्षा ग्रहण किये हुए कक्षा 3 में पहुँच गए | ऐसे में इस लर्निंग गैप को ख़त्म करना आपने आप में किसी चुनौती से कम नहीं है |

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कक्षा 1, कक्षा 2 एवं कक्षा 3 के बच्चों के लिए एक विशेष कार्यक्रम 01 अगस्त 2022 से प्रारम्भ किया गया है | यह कार्यक्रम निपुण भारत लक्ष्य पर आधारित 22 सप्ताह अर्थात लगभग 132 दिनों का होगा | इस दौरान पिछले दो वर्षों के बीच हुए नुकसान को भी ध्यान में रखते हुए शिक्षण कार्य किया जाएगा |

यह विशेष शिक्षण का कार्यक्रम 01 अगस्त 2022 से प्रारम्भ है | जिसके लिए प्रदेश के सभी प्राथमिक स्तर पर शिक्षण करने वाले सभी शिक्षक एवं शिक्षा मित्र को 04 दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया है | कक्षा 1, कक्षा 2 एवं कक्षा 3 के लिए 22 सप्ताह की शिक्षण गतिविधियों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए कुछ सामग्रियां भी सभी विद्यालयों को दी गयी हैं | जिनमें से प्रमुख सामग्रियां निम्न हैं –

उपरोक्त सभी सामग्रियाँ पूर्व में उपलब्ध कराई गई सामग्री के अतिरिक्त होगी | पूर्व में आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका भाषा एवं गणित सत्र- (2019-20) उपलब्ध कराई गयी थी | नई आधारशिला शिक्षण संदर्शिका 2022-23 में वार्षिक योजना, साप्ताहिक योजना एवं दैनिक शिक्षण योजना विस्तार से दी गई है | कार्यपुस्तिकाओं में बच्चों को अभ्यास के पर्याप्त अवसर प्रदान करने हेतु कार्यपत्रक दिए गए हैं | सभी शिक्षक कक्षा 1 से 3 तक शिक्षण के दौरान इसका प्रयोग कर पायेंगे |

You just read 22 saptaah ki shikshan yojna in Hindi kya hai. If you have any suggestions regarding school readiness programme, please send them to us as your suggestions are very important to us.

CONTACT US :
IMPORTANT LINKS :
RECENT POSTS :

This section has a detailed solution for all SCERT UTADAR PRADESH textbooks of class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7 and class 8 along with PDFs of all primary and junior textbooks of classes . Free downloads and materials related to various competitive exams are available.

error: Content is protected !!