दैनिक शिक्षण योजना प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक स्तर

दैनिक शिक्षण योजना

शिक्षक डायरी को नियमित अद्यतन करना एक कुशल शिक्षक की निशानी है | कोई कार्य नियमित रूप से करने पर व्यक्ति में आत्मविश्वास बढ़ता है | इस पोस्ट में आप जानेंगे कि दैनिक शिक्षण योजना क्या होती है और इसे शिक्षक डायरी में कहाँ भरा जाएगा |

प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक स्तर की दैनिक शिक्षण योजना तैयार करते समय पिछले दिन के स्व-आकलन को ध्यान में रखना आवश्यक है, क्योंकि जब सभी विद्यार्थी प्रेरक बनेंगे तभी वह विद्यालय प्रेरक बनेगा |

दैनिक शिक्षण योजना (प्राथमिक स्तर)

समयगतिविधिउपलब्ध संसाधन
20 मिनटस्वागत, वार्मअप गतिविधि, स्वास्थ्य और स्वच्छता चैकदीक्षा पोर्टल
40 मिनटमानसिक एवं भावनात्मक विकास हेतु क्रियाकलाप मानसिक एवं भावनात्मक विकास की गतिविधियाँ
60 मिनटहिन्दी अभ्यास कार्यप्रेरणा पोर्टल पर उपलब्ध अभ्यास पत्रक , पोस्टर एवं चार्ट
60 मिनटकहानी सुनाना, साझा पठन, व्यक्तिगत पठन सहज पुस्तकें एवं लाइब्रेरी पुस्तकें
मध्यान्ह भोजन
60 मिनटगणित अभ्यास कार्य प्रेरणा पोर्टल पर उपलब्ध अभ्यास पत्रक , पाठ्यपुस्तकें
60 मिनटमैथ कार्ड, पोस्टर एवं मैथ किट से गतिविधियाँ मैथ कार्ड, पोस्टर एवं मैथ किट
30 मिनटसह पाठ्यक्रम छात्र कौशल विकास (खेल, चित्रकला, नाटक, संगीत)
प्राथमिक स्तर पर भाषा और गणित के उपचारात्मक शिक्षण के दौरान निम्न कार्य प्रमुखता से किये जाने हैं –
  • पढ़ने से पूर्व की तैयारी जैसे – ध्वनि जागरूकता, मौखिक भाषा विकास सम्बंधित कार्य
  • लेखन से पूर्व की तैयारी, जैसे – आड़ी तिरछी रेखाएं खींचना, बिन्दुओं को मिलाना, रंग भरना आदि
  • अंक ज्ञान से पूर्व की तैयारी, जैसे – पैटर्न की समझ, समय , मापन , वर्गीकरण , स्थानिक समझ , दूर-पास , ऊपर-नीचे , हल्का-भारी आदि
  • बच्चों द्वारा विद्यालय के लिए नियम बनाना तथा उनका पालन करना
  • बच्चों द्वारा एक दूसरे को सीखने में सहयोग करना
बच्चों के साथ जुड़ाव सम्बंधित गतिविधियाँ
  • बच्चों को अपने मन की बात बोलने के मौके
  • दूसरों की बात सुनने समझने के मौके
  • कक्षा में आपसी सहयोग और व्यवहार पर आपसी सहमति
  • कक्षा में सहज, अनुकूल वातावरण का निर्माण
  • शिक्षक एवं बच्चों तथा बच्चों का अन्य सहपाठियों के साथ सम्बन्ध आदि
कार्यपत्रक पर कार्य
  • कक्षा 1 से 5 के लिए भाषा एवं गणित हेतु 30-30 कार्य पत्रक उपयोग किये जायेंगे
  • भाषा के कार्य पत्रक बिन्दुओं को मिलाना, चित्र पहचानना और उसके बारे में बताना, शब्द की प्रथम ध्वनि बताना, वर्ण पहचानना, वर्ण जोड़कर शब्द बनाना आदि का कार्य दिया गया है
  • गणित अंक ज्ञान से पूर्व की तैयारी , जैसे पैटर्न की समझ , समय , मापन , वर्गीकरण , स्थानिक समझ : दूर-पास , ऊपर-नीचे , हल्का -भारी आदि का कार्य दिया गया है

दैनिक शिक्षण योजना (उच्च प्राथमिक स्तर)

समयगतिविधिउपलब्ध संसाधन
20 मिनटस्वागत, वार्मअप गतिविधि, स्वास्थ्य और स्वच्छता चैकदीक्षा पोर्टल
40 मिनटहिन्दी उपचारात्मक शिक्षण एवं मानसिक एवं भावनात्मक विकास की गतिविधियाँ प्रेरणा पोर्टल पर उपलब्ध गतिविधियाँ एवं अभ्यास पत्रक , ध्यानाकर्षण की तकनीकें
60 मिनट गणित उपचारात्मक शिक्षण प्रेरणा पोर्टल पर उपलब्ध अभ्यास पत्रक , पाठ्यपुस्तकें
60 मिनटविज्ञान उपचारात्मक शिक्षण प्रेरणा पोर्टल पर उपलब्ध अभ्यास पत्रक , पाठ्यपुस्तकें
मध्यान्ह भोजन
60 मिनटअंग्रेजी उपचारात्मक शिक्षण गतिविधियाँ Textbooks (story telling, oral work, dictation, reading practice, grammar)
40 मिनटकहानी सुनाना, साझा पठन, व्यक्तिगत पठन सहज पुस्तकें एवं लाइब्रेरी पुस्तकें
40 मिनटसह पाठ्यक्रम छात्र कौशल विकास (खेल, चित्रकला, नाटक, संगीत)

उच्च प्राथमिक स्तर पर गणित और विज्ञान के अभ्यास पत्रक दिए गये हैं | जिन्हें डाउनलोड करके श्यामपट्ट पर अभ्यास कराया जा सकता है | मानसिक और भावनात्मक विकास की गतिविधियाँ दी गई हैं , पहले उनका अध्ययन करें , तत्पश्चात कक्षा-शिक्षण के दौरान उनका उपयोग करें |

उच्च प्राथमिक स्तर पर कक्षा-कक्ष की गतिविधियों को संचालित करने संबंधी निर्देश
  • प्रतिदिन सुबह एक घंटा उपचारात्मक शिक्षण किया जाए जिसमें हिन्दी व गणित पर विशेष ध्यान दिया जाए ताकि बच्चे इन विषयों की कक्षानुरूप दक्षताएं अर्जित कर सकें |
  • गणित एवं विज्ञान में भी टेक्स्ट बुक से पढ़ाने से पहले उपचारात्मक शिक्षण के लिए अभ्यास पत्रकों द्वारा कार्य किया जाए |
  • अंग्रेजी एवं हिन्दी के लिए बच्चों को लाइब्रेरी की पुस्तकें पढ़ने के मौके दें, कहानी सुनने-सुनाने की गतिविधियाँ करवाएं | मानसिक एवं भावनात्मक विकास की गतिविधियाँ प्रतिदिन अवश्य करवाएं |

दैनिक शिक्षण योजना को तैयार करते समय समृद्ध मॉड्यूल , आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका और तीनों मॉड्यूल आधारशिला, धानाकर्षण एवं शिक्षण संग्रह में दी गई तकनीकों और गतिविधियों को आवश्यकतानुसार समय-समय पर प्रयोग किया जाय |

RELATED POSTS :

आपने अभी स्कूल रेडीनेस के आधार पर उपचारात्मक शिक्षण की दैनिक कार्ययोजना के बारे में पढ़ा  . If you have any suggestions, please send to us as your suggestions are very important to us.

CONTACT US :

IMPORTANT LINKS :
RECENT POSTS :

This section has a detailed solution for all SCERT UTADAR PRADESH textbooks of class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7 and class 8, along with PDFs of all primary and junior textbooks of classes . Free downloads and materials related to various competitive exams are available.

error: Content is protected !!