टेसू राजा (कविता) कक्षा 4 फुलवारी पाठ 17

up board solutions class 4

Solution for SCERT UP Board textbook कक्षा 4 हिन्दी कलरव “फुलवारी” पाठ 17 टेसू राजा (कविता) solution Hindi pdf, | If you have query regarding Class 4 Kalrav ( Fulwari ) chapter 17 Tesu Raja, please drop a comment below.

टेसू राजा (कविता)

1: बोध प्रश्न : उत्तर लिखिए –

(क) टेसू राजा किस बात के लिए अड़े खड़े हैं ?

उत्तर- टेसू राजा दही-बड़े की जिद में अड़े-खड़े हैं |

(ख) माँ की कठिनाई क्या है ?

उत्तर- माँ की कठिनाई है कि दही-बड़े बनाने के लिए कई प्रकार की सामग्री की आवश्यकता होती है, उन सामग्रियों को कैसे इकठ्ठा करे |

(ग) टेसू की माँ के पास उड़द होते तो उन्हें क्या-क्या नहीं करना पड़ता ?

उत्तर- टेसू की माँ के पास उड़द होते तो उन्हें खेत खुदाने, उड़द उगाने का कार्य नहीं करना पड़ता |

(ध) कविता को पढ़कर दही बड़ा बनाने की प्रक्रिया / चरणों को क्रमशः लिखिए। जैसे-उड़द को छाँट फटक कर भिगोना, पिट्ठी पिसवाना

उत्तर- दही-बड़ा बनाने की प्रक्रिया निम्न है –

  • उड़द को भिगोना
  • उसकी पिट्ठी पिसवाना
  • गोल टिकिया बनाना
  • टिकिया को चपटा करके बीच में उँगलियों से छेद बनाना
  • तेल में तलना
  • दही में डुबाना

2: सोच विचार : बताइए –

(क) आपने अपनी माँ से कब और किस बात के लिए जिद की ?

उत्तर- स्वयं लिखें |

(ख) माँ ने वह जिद कैसे पूरी की ?

उत्तर- स्वयं लिखें |

(ग) क्या हमें जिद करनी चाहिए, यदि हाँ तो क्‍यों ?

उत्तर- स्वयं लिखें |

(घ) आपने अपने घर में किसी दुकान पर या किसी अन्य स्थान पर इन कामों को होते देखा होगा। बताइए कि कैसे होतें हैं ये काम-

आलू की टिकिया बनाना।
मिट्टी से घड़ा बनाना।
बेसन से पकौड़ी बनाना।
आटे से रोटी बनाना।

उत्तर- स्वयं लिखें |

3: भांषा के रंग –

(क) कविता में तुकांत॑ शब्द खूब आए हैं। जैसे-अड़े, खड़े, बड़े / लाऊँ, खुदाऊँ, उगाऊँ। इन्हें ढूंढकर लिखिए।

उत्तर- रखवाऊँ – पिसवाऊँ – बनाऊँ – बेलवाऊँ , मंगाऊं – खिलाऊँ

(ख) पाठ में आए हुए () अनुनासिक शब्दों को छांटकर लिखिए- जैसे – कहाँ

उत्तर- लाऊँ, रखवाऊँ, पिसवाऊँ, बनाऊँ, बेलवाऊँ, जलाऊँ, सिकवाऊँ, डालूँ, छिड़काऊँ, लगाऊँ, मंगाऊं, खिलाऊँ

4: आपकी कलम से –

(क) ‘दही बड़ा’ की ही तरह अगर ‘रोटी’ बनानी हो तो कविता कैसे बनेगी? खाली स्थान में सही शब्द भरकर कविता को पूरा कीजिए –

पहले खेत खुदाऊँ मैं।
उसमें गेहूँ उगाऊँ मैं।
फसल काट घर लाऊँ मैं।
छान फटक रखवाऊँ मैं।
फिर आटा पिसाऊँ मैं।
टिकिए गोल बनाऊँ मैं।
बेलन से बेलवाऊँ मैं।
तवा पर सिकवाऊँ मैं।
तब वह उन्हें खिलवाऊँ मैं।

(ख) आपके घर में खाना कौन-कौन बनाते हैं ? आप इस काम में उनकी क्या मदद कर सकते हैं, नीचे बनी तालिका में लिखिए-

खाना कौन बनाता हैमैं क्या मदद करता हूँमैं और क्या-क्या मदद कर सकता हूँ
स्वयं लिखें |


(ग) आपकी रसोई में-

क्या-क्या कड़ाही में तलकर सेंका जाता है?- पूड़ी, गुलाबजामुन, बड़ा, पकौड़ी गुझिया
क्या-क्या पानी में डालकर उबाला जाता है ?- आलू, चावल
किन चीजों के बनाने में दही का प्रयोग होता है ?- कढ़ी, भटूरे, दही-बड़ा
कौन-कौन से बरतन है ?- भगौना, कढ़ाई, थाली, गिलास, कटोरी, चम्मच, कुकर
किन-किन बरतनों का प्रयोग होगा ?-

सब्जी बनाने मेंकढ़ाई, चम्मच
दाल बनाने मेंकुकर / भगौना
चावल बनाने मेंकुकर / भगौना

5: अब करने की बारी –

(क) देखिए, समझिए और बताइए –

साबूदाना वड़ा

विधि : साबूदाना को तीन से चार घंटे के लिए पानी में भिगोएं। मूंगफली को सूखा भून लें। छिलका हटाकर पाउडर बनालें। आलू को उबालकरछिलका छील,लें और मैश कर लें। साबूदाना को पानी से निकालकर पानी निचोड़ लें। एक बाउल में साबूदाना, आलू, मूंगफली का पाउडर, धनिया पाउडर, नमक और नीबू का रस डालकर मिलाएं। कढ़ाही में तेल गर्म करें। तैयार मिश्रण से छोटी-छोटी लोई बनाएं। हथेलियों में तेल लगाएं, लोई को बीच में रखकर हल्का-सा दबाएं। तैयार बड़ा को सुनहरा होने तक तलें। व्रत वाली चटनी के साथ सर्व करें।

ख) इंटरव्यू:- आपने टेलीविजन पर अखबार में अथवा रेडियो पर किसी का इंटरव्यू (साक्षात्कार) देखा, पढ़ा अथवा सुना होगा। पता है, आप भी ले सकते हो इंटरव्यू । अपने घर में खाना पकाने वाले से ये सवाल पूछिए और उत्तर लिखिए –

खाना पकाना कब सीखा ?
क्या-क्या बनाना आसान होता है ?
किससे सीखा ?
क्या-क्या बनाने में ज्यादा समय लगता है?
क्या-क्या बना लेते हैं ?
प्रायः लोग क्‍या खाना ज्यादा पसंद करते हैं?
बनाते समय क्या-क्या सावधानियाँ रखते हैं ?
खाना बनाते, खिलाते समय कब आपको परेशानी या दुःख होता है ?

उपरोक्त दोनों प्रश्नों के उत्तर स्वयं लिखें |

6: म्रेरे दो प्रश्न : कविता के आधार पर दो सवाल बनाइए –

  1. उड़द कहाँ उगाया जाता है ?
  2. छोटे बालक का क्या नाम था ?

7: इस कविता से –
(क) मैंने सीखा ………..स्वयं लिखें
(ख) मैं करूँगी / करूँगा ………..स्वयं लिखें

Master Jee Online Solutions for Class 4 Kalrav Chapter 17 वीर अभिमन्यु (महाभारत की कथा). If you have any suggestions, please send to us as your suggestions are very important to us.

CONTACT US :
IMPORTANT LINKS :
RECENT POSTS :

This section has a detailed solution for all SCERT UTADAR PRADESH textbooks of class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7 and class 8, along with PDFs of all primary and junior textbooks of classes . Free downloads and materials related to various competitive exams are available.

error: Content is protected !!